Mirabai Chanu Biography | Age, Weight, Life Style, Birth Date, BF, Boy Friend, Address |

भारत की मीराबाई चानू (Mirabai Chanu Biography) ने ओलंपिक में दूसरे दिन देश को मेडल दिला कर इतिहास रच दिया. भारत की ऐसी पहली महिला बन गई जिन्होंने ओलंपिक में वेटलिफ्टिंग प्रतियोगिता के दौरान सिल्वर मेडल जीता. इससे पहले कर्णम मल्लेश्वरी सिडनी ओलंपिक में इस इवेंट में कांस्य पदक ला चुकी है. लेकिन मीराबाई चानू ने इस पदक का रंग बदलने में कामयाबी हासिल की.

Mirabai Chanu Biography in Hindi

मीराबाई चानू (Mirabai Chanu Biography) ने ऐतिहासिक वेटलिफ्टिंग में दो तरीके की प्रतियोगिताएं होती हैं. जिसमें स्नैच और क्लीन एंड जर्क देखने को मिलता है. मीराबाई चानू स्नैच में 84 किलोग्राम और 87 किलोग्राम वजन उठाया. वहीं क्लीन एंड जर्क में 110 किलोग्राम और 115 किलोग्राम वजन उठाया. दोनों ही श्रेणियों में उठाए गए उच्चतम आधार पर उनके कुल अंक 202 बने. जिन्होंने मीराबाई को सिल्वर मेडल दिलाने में कामयाबी हासिल की.

Name Mirabai Chanu | मीराबाई चानू
Age 27 Year Old
Birth Date 8-Augeust-1994
Birth Placeमणिपुर के नोंगपोक कांची
Medal Gold Medal And silver Medal
Cline Jurak 110 kg And 115 Kg
Education
Boyfriend
Bf
School
Life Style
Contact
Mobile Number
Father Name
Mother Name
Brother
Sister
Family Members8
Mirabai Chanu Biography | Age, Weight, Life Style, Birth Date, BF, Boy Friend, Address |

भारतीय महिला वेटलिफ्टर मीराबाई चानू 2017 में विश्व चैंपियन बनी थी. मीराबाई चानू 49 किलोग्राम भारत वर्ष में टोक्यो ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व कर रही थी. और भारत को सिल्वर मेडल भी जीता दिया. उड़ने 2018 के कॉमनवेल्थ गेम्स में भी गोल्ड मेडल जीता था. फिर एशियन चैंपियन 2020 में 119 किलो वजन क्लीन एंड जर्क में उठा कर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था.

मीराबाई चानू का जन्म मणिपुर के नोंगपोक कांची क्षेत्र के साधारण परिवार में हुआ था. मीराबाई चानू का जन्म 8 अगस्त 1994 को मणिपुर की इंफाल से 20 किलोमीटर दूर नोंगपोक काक्चिंग गांव में हुआ था. मीराबाई अपनी छह भाई-बहनों में सबसे छोटी है. इनका परिवार आर्थिक रूप से सक्षम नहीं था. आर्थिक रूप से सक्षम ना हो पाने के कारण मीराबाई चानू को अपने भाई शेकॉम शांतोंम के साथ पहाड़ों पर लकड़ी बीनने चले जाना पड़ता था. जहां वह बड़े बड़े भारी गठन उठा लिया करती थी.

उस दौरान मीराबाई चानू (Mirabai Chanu Biography) की उम्र सिर्फ 12 साल की थी. इसके बाद प्रारंभिक शिक्षा गांव में ही हुई मणिपुर में ही उन्होंने पहले अपनी ट्रेनिंग की. फिर लगातार शानदार खेल दिखाते हुए. वह आगे बढ़ती चली गई उन्होंने 2016 के रियो ओलंपिक में निराश करने वाला प्रदर्शन किया था.और वेटलिफ्टिंग इवेंट को पूरा करने में ही फेल हो गई थी.

Read This Also

Amit Bhadana Biography | अमित भड़ाना बाइओग्राफी

God of Cricket|गॉड ऑफ क्रिकेट। Who Is The God Of Cricketer

मीराबाई चानू (Mirabai Chanu Biography) को भारत सरकार द्वारा खेल रत्न और पद्म श्री अवार्ड से नवाजा जा चुका है. बचपन में जलाने वाली लकड़ी का गट्ठर उठाने से लेकर अंतरराष्ट्रीय पोडियम तक पहुंचने ओलिंपिक में सिल्वर मेडल जीतने तक का वेटलिफ्टर साइको मीराबाई चानू का सफर बेहद शानदार रहा है. आने वाली कई पीढ़ियां मीराबाई चानू से प्रेरित होती रहेंगी.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.