हॉकी का जादूगर किसे कहा जाता है। Hockey ka jadugar kise kaha jata hai।

हॉकी का जादूगर किसे कहा जाता है। Hockey ka jadugar kise kaha jata hai। हैलो दोस्तों आज हम हॉकी का जादूगर किसे कहा जाता हे, इस के बारे मे हम जानने वाले हे। उनके जन्म से ले के सभी कुछ बात करने वाले हे। हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद का जीवन परिचय.

हॉकी का जादूगर किसे कहा जाता है

हॉकी का जादूगर मेजर ध्यानचंद जी को कहा जाता है, क्योंकि ध्यानचंद जी को भारतीय हॉकी टीम में ओलंपिक में गोल्ड मेडल मिला हुआ है। भारतीय हॉकी टीम ने 1928 से लेकर 1936 मेजर ध्यानचंद जी ने लगातार जीत होते हुए ओलंपिक खेलों में उन्होंने गोल्ड मेडल पाया हुआ है।

मेजर ध्यानचंद जी का जन्म दिवस 29 अगस्त 1905 को हुआ है। 29 अगस्त को भारत में राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में माना जाता है, मेजर ध्यानचंद जी को हॉकी में बहुत इंटरेस्ट था। ध्यान चंद जी का जन्म संगम नगरी इलाहाबाद में हुआ था। ध्यान चंद जी ने अंतरराष्ट्रीय मैच में उन्होंने 400 से ज्यादा अधिक ज्यादा गोल किए हुए हैं।

मेजर ध्यानचंद जी को बचपन से ही हॉकी खेलने खेल में रूची थी, और तो और हिटलर भी ध्यान चंद जी खेल से प्रभावित थे। मेजर ध्यानचंद जी को पूरी दुनिया में हॉकी का जादूगर माना जाता है।

मेजर ध्यानचंद जी को वर्ष 1956 में पद्म भूषण से नवाजा हुआ था, ध्यान चंद जी का करियर की शुरुआत 16 वर्ष में ही शुरू हुई थी। वर्ष 1922 दिल्ली में ब्राह्मण रेजिमेंट में सेना में एक साधारण सिपाही की हैसियत से भर्ती हुए थे। और यहीं से ही उनके हॉकी का जादूगर बनने का सफर शुरू हो गया था।

मेजर ध्यानचंद जी के बर्थडे के दिन भारत में क्रीडा दिवस माना जाता है। इस लेए ध्यानचंद जी को हॉकी का जादूगर कहा जाता है।

दोस्तों तो केसे लगी हमरी पोस्ट जिसका नाम है। हॉकी का जादूगर किसे कहा जाता है। Hockey ka jadugar kise kaha jata hai। हमे आप कमेन्ट मे जरूर बताके जाना।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.